Breadcrumbs

क्लासरूम में खाँसना

यदि आप युवा बच्चों के साथ पूरे दिन व्यतीत करते हैं, तो शायद आप कीटाणुओं के संपर्क में आ सकते हैं। जब बच्चे स्कूल नहीं जाते हैं तो यह उनकी मदद नहीं करता है और यह बच्चों के लिए जानना कठिन हो सकता है जब उनके शिक्षक भी स्कूल नहीं आते हैं। यहां सर्दी और फ्लू के मौसम के दौरान खाँसने वाले बच्चों के लिए कुछ सुझाव दिए गए हैं जो वह अपनी अपनी कक्षा में इस्तेमाल कर सकते हैं। इन नियमों को हर समय लागू करना एक चुनौती हो सकती है, विशेष रूप से जब आप अध्यापन में व्यस्त होते हैं, लेकिन छींकने और खाँसने वालों बच्चों पर नजर रखना पूरी कक्षा को हर साल स्वस्थ रहने में मदद कर सकता है।

  • खाँसते और छींकते बच्चों पर नजर रखना: अन्य लक्षणों को देखें, जैसे कि बुखार से एक फ्लश या उन्हें सांस लेने में परेशानी होती है। यदि आपको भेजना पड़ता है, तो स्कूल नर्स के पास बच्चे को भेजें ताकि उससे दूसरों में रोगाणु न फैलें।
  • ढकने का नियम स्थापित करना और लागू करना : खाँसने वाले बच्चों को हर बार खांसने पर अपनी नाक और मुंह को ढकने की आदत डालनी चाहिए
  • इसके अलावा, धोने का नियम स्थापित करना और लागू करना: अपने हाथों में खाँसने वाले बच्चों को तुरंत हाथ धोने की आवश्यकता होती है। यह केवल तभी काम कर सकता है यदि आपकी कक्षा में एक सिंक है, लेकिन यह अपनी कक्षा में रोगाणु के प्रसार को रोकने में मदद करने के बेहतरीन तरीकों में से एक है। सुनिश्चित करें कि बच्चे डेटॉल ओरिजिनल तरल हैंड वाश के साथ 20 सेकंड के लिए अपने हाथ धोएं

छींकते बच्चे को मॉनिटर करना: यदि वे अपने हाथ या बांह पर अपनी नाक पोंछते हैं तो सुनिश्चित करें कि वे अपने हाथ धोएं और अपने डेस्क के लिए कुछ टिशु लें। यदि आप के पास एक छोटे सी प्लास्टिक थैली है, उसे उनकी मेज या कुर्सी के साथ लटका दें और उन्हें बताएं कि वे इस्तेमाल टिशु के लिए इनका इस्तेमाल करें। फिर, वे दिन के अंत में बैग को कचरे की डिब्बे में फेंक दें।