Breadcrumbs

सार्वजनिक परिवहन में स्वच्छ रहने के लिए टिप्स

सार्वजनिक परिवहन में स्वच्छ रहने के लिए टिप्स

सार्वजनिक परिवहन में स्वच्छ रहने के लिए टिप्स

आज के समय में सार्वजनिक परिवहन का उपयोग अपरिहार्य हो गया है। अगर आप अत्यधिक धनी नहीं है जो केवल एक निजी कार और हवाई जहाज में यात्रा करते है, तो आपको नियमित रूप से आने जाने के लिए मेट्रो, बस, या ट्रेन पर निर्भर रहना पड़ता है। आपको कीटाणु से भय हो या न हो, आप इस तथ्य से सहमत होगे कि सार्वजनिक परिवहन में हमेशा गंदगी , अकल्पनीय जमी हुई मल जमी होती है।

जो लोग सार्वजनिक परिवहन से यात्रा करते है वे जो लोग निजी वाहनों में यात्रा करते है उनकी तुलना में तीव्र श्वसन बीमारियों से ग्रस्त होने की अधिक संभावना होती है। हालांकि, एक उम्मीद की किरण है: अगर आप एक दैनिक यात्रा करते हैं, तो आप कभी कभी यात्रा करनेवाले यात्री की तुलना में अपेक्षाकृत अधिक सुरक्षित हैं, क्योंकि हमेशा यात्रा करने के कारण आप की प्रतिरोधक अधिक मजबूत होती हैं।

जब तक हमें कोई सही विकल्प न मिल जाएँ , चलें हम उन तरीकों पर नजर डालते है जिसके माध्यम से हम अपने आप को सार्वजनिक परिवहन में यात्रा करते समय बीमार होने से बच सकते हैं।

  • अपने हाथ धोते रहें
    अगर दस्ताने आप के लिए ठीक नहीं है, तो चिंता ना करें , हमारे पास एक और समाधान है। आप सभी को यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि आप जब भी अपने गंतव्य स्थान पर पहुचते है तब अपने हाथ धो लें। सुनिश्चित करें कि भोजन के पहले या चेहरे से संपर्क बनाने से पहले आप अपने हाथ धो लें । इस तरह की स्थितियों में हैण्ड सैनीटाईजर/प्रक्षालक वरदान की तरह कार्य करते हैं। सुनिश्चित करें कि आप जब भी यात्रा करते है हमेशा एक हैण्ड सैनीटाईजर पास रखें।
  • यात्रा करते वक्त हमेशा अपने पास टिश्यू रखें
    यह एक से अधिक तरह से आपकी मदद करता है। जब आप छींक रहे होते या आसपास कोई छींकता है तब यह आपके काम आएगा। जब कोई सहयोगी या आसपास कोई अजनबी छींकताहै, तो अपनी नाक 30 सेकंड तक टिश्यू से ढंक ले और अपनी आँखें बंद रखें। इसके अलावा, डेटॉल द्वारा अत्यधिक प्रभावी जीवाणुरोधी बहु उपयोगी पोंछो का प्रयोग करके अपने चेहरे और हाथों की तत्काल सफाई कर सकते हैं।
  • अपने सेल फोन से दूर रहो
    आज, हम अपने उपकरणों जैसे लैपटॉप, कंप्यूटर, और टेबलेट के साथ लगातार संपर्क में रहतें हैं; । हम इन पर समय बिताते वक्त, हमें यह सुनिश्चित करना है की इन उपकरणों की सतह और स्क्रीन साफ हैं, खासकर जो चेहरे के साथ निकट संपर्क में आते है। इसके अलावा, अगर बहुत ज्यादा प्रदूषण है तो अपने फोन को बाहर न निकालें। कारण यह कि जब आपको कोई कॉल करता है तो आप अपने फोन को चेहरे के पास लेट हों, जो कीटाणुओं को आपके शरीर पर आक्रमण करने के लिए बहुत समय देता है।
  • घर पर पहुँचते ही कपड़े बदलें
    जादातर लोगों को बहार से आने के बाद उन्ही कपड़ों में घंटे तक अपने सोफे पर आराम करने की आदत होती है। बहरहाल, इससे आप के द्वारा अपने सोफे, शय्या या यहां तक की बिस्तर पर भी कीटाणुओं के हस्तांतरित होने की जोखिम बढ़ जाती है। इसलिए आप जैसे ही घर पर पहुँचते है अपने पसंदीदा घर के कपड़े पहने। अधिकतम स्वच्छता सुनिश्चित करने के लिए,अपने कपड़े धोने के समय स्वच्छता तरल पदार्थ की प्याली डालें।
  • समय महत्वपूर्ण है
    यह अभिलाषी लग सकता है, लेकिन, अगर आप भीड़ के समय सार्वजनिक परिवहन में यात्रा करते है तो यह स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है। साधारण तर्क ऐसा है कि जितने कम लोग आसपास होगे, उतनी कम संक्रामक जीवाणुओं की संभावना होती है। इसके अलावा, अन्यथा भीड़ भरे बस, मेट्रो, या ट्रेनों में खाली जगह पाना बेहतर है। अगर आप दैनिक यात्रा करते है तो घर से थोडा जल्दी निकले और आने-जाने के वक्त मानव संपर्क कम करने का एक अन्य प्रभावी तरीका स्मार्टकार्डस का उपयोग करना है । इस के प्रयोग से आपको लंबी कतारों में खड़े रहने की जरुरत नहीं होगी और ना ही आपको उन यात्रिओं के करीब खड़ा होना होगा जो उनके शरीर में बैक्टीरिया ले जा सकता है।
  • साफ पानी पियें
    यात्रा पर जाते समय हमेशा घर से पर्याप्त पानी ले जाएँ । दूषित पानी पीने से हैजा, टाइफाइड, और हेपेटाइटिस जैसे जल जनित बीमारियों हो सकती है। अगर आपके रास्ते पर पानी की सुविधा संतोषजनक नहीं हैं, तो हमेशा पैक पीने का पानी लो।
  • वायु मुखौटा
    वे कहते हैं कि हताश समय के लिए हताश उपायों की जरुरत होती है । इसलिए यदि आपका शहर बढ़ती वायु प्रदूषण के स्तर के लिए कुख्यात है या अगर कोई संचारी रोग के फैलने का खतरा है तब आप हवा मुखौटालगायें । यह बैक्टीरिया, पराग और धूल को दूर रखने में सबसे कुशल तरीका है।
  • दस्ताने पहने
    अगर आप यह गर्मियों में करोगे तो मुर्ख दिखोंगे , लेकिन इस मौसम में नमी का स्तर अधिक होता है, जो प्रदूषण के साथ आपको बैक्टीरिया के लिए अनूठा बनाते हैं। दस्ताने पहने से आप डंडे, सीटें और हैंडल, किसी भी चीज को छुते है उससे रक्षा होती है। सीधे शब्दों में कहें, तो जहाँ भी संभव है आप त्वचा से संपर्क करने में परहेज करें ।